Pages Navigation Menu

Breaking News

मोदी सरकार ने लिया रेलवे बोर्ड के पुनर्गठन का फैसला, कैडर विलय को भी मंजूरी

 राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर पर कैबिनेट की मुहर

कैबिनेट से चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ को मंजूरी

मीडिया के सामने आए कांग्रेस,एनसीपी और शिवसेना के 162 विधायक

UnityofStrengthमुंबई के होटल ग्रैंड हयात में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के 162 विधायकों की परेड हुई. यहां पर तीनों दलों के कद्दावर नेता शरद पवार, उद्धव ठाकरे और पूर्व सीएम अशोक चव्हाण मौजूद रहे. यहां पर तीन दलों के विधायकों को एनसीपी नेता जितेंद्र अवहद ने शपथ दिलाई.तीनों पार्टियों के विधायकों ने शरद पवार, सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे के नाम पर शपथ ली और कहा कि वे किसी इस शपथ के प्रति निष्ठावान रहेंगे, किसी लालच में नहीं पड़ेंगे और गठबंधन के प्रति इमानदार बनें रहेंगे. इन विधायकों ने शपथ ली कि वे बीजेपी को समर्थन नहीं करेंगे. न ही अपनी पार्टी के खिलाफ काम करेंगे और पार्टी आलाकमान का आदेश मानेंगे.इससे पहले विधायकों को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारी संख्या इतनी हो गई है कि अब हम एक फोटो में नहीं आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि अब हम बताएंगे कि शिवसेना क्या चीज है. शरद पवार ने भी विधायकों को संबोधित किया और कहा कि बीजेपी ने गलत तरीके से सरकार बनाई है. पवार ने कहा कि हम 5 साल के लिए 50 साल के लिए आए हैं.

अजित पवार ने सबको गुमराह किया है, अब वो कोई फैसला नहीं ले सकते हैं

ग्रैंड हयात होटल में विधायकों को संबोधित करते हुए एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि अजित पवार ने सबको गुमराह किया है, अब वो कोई फैसला नहीं ले सकते हैं. उन्होंने कहा कि अजित पवार के खिलाफ कार्रवाई करेंगे. शरद पवार ने कहा कि जरूरत पड़ने पर एनसीपी व्हिप जारी करेगी और व्हिप का पालन न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. शरद पवार ने विधायकों से कहा कि कर्नाटक, गोवा और मणिपुर में बीजेपी ने बिना बहुमत के सरकार बना ली. उन्होंने कहा कि ये लोग लोकतांत्रिक प्रक्रिया में विश्वास में नहीं करते हैं, पवार ने कहा कि केंद्र सत्ता का दुरुपयोग कर रही है.शरद पवार ने कहा कि तीनों दलों को विधानसभा में बहुमत साबित करने में कोई दिक्कत नहीं होगी. पवार ने कहा कि विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दिन मैं 162 से ज्यादा विधायकों को ले आऊंगा, उन्होंने कहा कि ये गोवा नहीं, बल्कि महाराष्ट्र है.महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता अशोक चव्हाण हयात होटल में मौजूद विधायकों को संबोधित कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना के 162 नहीं बल्कि उससे ज्यादा विधायक हैं. अशोक चव्हाण ने महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ गठबंधन की मंजूरी के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि तीनों दलों के विधायकों का हस्ताक्षर लेकर हमलोग राज्यपाल के पास गए हैं. हमें उम्मीद है कि राज्यपाल इस पर गौर करेंगे. उन्होंने कहा कि राज्यपाल को हमें सरकार बनाने के लिए बुलाना चाहिए.

पवार-उद्धव और खड़गे एक कतार में

ग्रैंड हयात होटल के अंदर एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार पहुंच गए हैं. शरद पवार को शिवसेना नेता संजय राउत लेकर पहुंचे हैं. शरद पवार यहां कांग्रेस और शिवसेना नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. समाजवादी पार्टी नेता अबु आजमी भी यहां पहुंचे हैं. पहली पंक्ति में सबसे पहले अशोक चव्हाण, उसके बाद उद्धव ठाकरे और फिर शरद पवार बैठे हैं. इसके बाद कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे मौजूद हैं. अभी-अभी एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल भी हयात होटल पहुंच चुके हैं.

महा विकास अगाड़ी जिंदाबाद के नारे लगे

ग्रैंड हयात होटल के अंदर एनसीपी नेता सुप्रिया सुले काफी सक्रिय दिख रही हैं. सुप्रिया सुले एक-एककर खुद हर विधायक के पास जा रही हैं और उनसे मुलाकात कर रही है. उद्धव ठाकरे भी शिवसेना विधायकों से मिल रहे हैं. उद्धव के साथ शिवसेना के कई दूसरे नेताओं का जमावड़ा है. आदित्य ठाकरे भी होटल के अंदर मोर्चा संभाले हुए हैं. वे खुद भी विधायकों से बात कर रहे हैं. यहां पर उन्होंने जीत का निशान दिखाया है. होटल ग्रैंड हयात में महा विकास अगाड़ी जिंदाबाद के नारे लग रहे हैं.

शरद पवार की दो टूक- अजित पर होगा एक्शन

मुंबई के हयात होटल में विधायकों की परेड में एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने अपने भतीजे अजित पवार पर कार्रवाई की बात कही है. उन्होंने कहा कि अजित पवार के खिलाफ कार्रवाई करेंगे, वो किसी प्रकार का फैसला नहीं ले सकेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि अब तीनों पार्टियां (शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी) मिलकर कोई भी फैसला लेंगी. यही नहीं, शरद पवार ने कहा कि व्हिप न मानने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी.होटल में शक्ति प्रदर्शन के दौरान तीनों ही पार्टियों के नेताओं को संबोधित करते हुए शरद पवार ने कहा कि ये गोवा या मणिपुर नहीं है. ये महाराष्ट्र है. साथ ही उन्होंने अजित पवार पर सबको गुमराह करने का आरोप लगाया है.शरद पवार ने कहा कि हम महाराष्ट्र की जनता के लिए यहां जुटे हैं. गठबंधन सिर्फ कुछ समय के लिए नहीं, लंबे समय के लिए है. बीजेपी को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग केंद्र में हैं उन्होंने एक और राज्य में यह काम किया था. यह उनका इतिहास है. उन्होंने गलत तरीके से यह सरकार बनाई है.एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि महाराष्ट्र में कुल 288 सीटें हैं. सबसे ज्यादा जीते विधायक यहां पर हैं. कर्नाटक, गोवा, मणिपुर में बहुमत न होते हुए भी इन्होंने पावर का दुरुपयोग कर सरकार बनाई. देश का इतिहास अब बदलेगा, जिसकी शुरुआत महाराष्ट्र से होगी.

अजित पवार पर खुलकर बोले शरद पवार

शरद पवार पहली बार अपने भतीजे अजित पवार पर खुलकर बोले. उन्होंने कहा कि उन्हें (अजित पवार) विधायक दल का नेता चुना गया था, उन्होंने उसका दुरुपयोग किया, सबको गुमराह किया. उन्होंने कहा कि व्हिप का उल्लंघन करने पर कार्रवाई होगी. हमने अजित पवार को निकालने का निर्णय ले लिया है. पवार ने कहा कि हमने कानून के विशेषज्ञों से भी सलाह ली है. अजित निकाले जाने के बाद कोई निर्णय नहीं ले सकते.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *