Pages Navigation Menu

Breaking News

अयोध्या विकास प्राधिकरण की बैठक में सर्वसम्मति से राम मंदिर का नक्शा पास

मानसून सत्र 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलेगा, दोनों सदन अलग-अलग समय पर चलेंगे

  7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं होंगी शुरू, 12 सितंबर तक सभी मेट्रो लगेंगीं चलने 

ताहिर हुसैन के आतंकी कनेक्शन की वजह से तो नहीं की गई अंकित शर्मा की हत्या

app corporaterनई दिल्लीदिल्ली हिंसा में इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या को लेकर भारतीय जनता पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सनसनीखेज आरोप लगाया है। उन्होंने ट्वीट में सरकार से पूछा है कि अंकित शर्मा की हत्या कहीं आम आदमी पार्टी के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन के इशारे पर इसलिए तो नहीं की गई क्योंकि वह बांग्लादेशी आतंकवादियों के साथ ताहिर हुसैन के संबंधों की जांच कर रहे थे। अगर ऐसा है तो यह बेहद गंभीर मामला है। सरकार को इसे स्पष्ट करना चाहिए।
अंकित की हत्या को लेकर सुब्रमण्यम स्वामी का ट्वीट
सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘सरकार को यह स्पष्ट करने की जरूरत है कि आईबी के अधिकारी अंकित शर्मा कहीं बांग्लादेशी आतंकियों के साथ ताहिर हुसैन के संबंधों के तार तो नहीं ढूंढ रहे थे और इसीलिए उनकी हत्या ताहिर के इशारे पर कर दी गई। अंकित की हत्या अगर बांग्लादेशी आतंकियों के साथ ताहिर के संबंधों पर नजर रखने के लिए हुई है तो यह बेहद गंभीर मामला है।’

ताहिर हुसैन की और बढ़ेगी मुश्किल
उत्तर पूर्वी दिल्ली के चांदबाग इलाके में हुई हिंसा में आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। अंकित शर्मा परिजन भी आम आदमी पार्टी (आप) के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन पर हत्या का आरोप लगा रहे हैं। वहीं ताहिर हुसैन की बिल्डिंग के छत से मिले पेट्रोल बम और ईंट-पत्थर भी ताहिर पर ही उंगलियां उठाने की वजह बन रहे हैं।

अंकित के परिवार ने भी ताहिर हुसैन पर लगाया आरोप
इस बीच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने ताहिर हुसैन के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कर ली है। उसकी बिल्डिंग को भी सील कर दिया गया है और जांच चल रही है। दूसरी ओर ताहिर हुसैन ने खुद को पूरे मामले में निर्दोष बताया है। उन्होंने कहा कि मैं अंकित को निजी तौर पर नहीं जानता हूं। हालांकि, केस दर्ज होने के बाद से ताहिर हुसैन का कुछ पता नहीं चल रहा है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *