Pages Navigation Menu

Breaking News

नड्डा ने किया नई टीम का ऐलान,युवाओं और महिलाओं को मौका

कांग्रेस में बड़ा फेरबदल ,पद से हटाए गए गुलाम नबी

  पाकिस्तान में शिया- सुन्नी टकराव…शिया काफिर हैं लगे नारे

राखी पर छलका सुशांत की बहन का दर्द

sushant-sisterनई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत की बहनों का दर्द आज हर कोई महसूस कर सकता है, जिन्होंने अपने लाडले को हाल ही में हमेशा के लिए खो दिया है। अब के बाद से कभी वे अपने भाई की कलाई पर राखी नहीं बांध सकेंगी। आज सुशांत की बहन रानी ने एक इमोशनल पोस्ट लिखा है, जो सोशल मीडिया पर इस वक्त काफी चर्चा में है। भाई सुशांत के लिए लिखे गए अपने इमोशनल नोट में बहन रानी ने लिखा है-गुलशन, मेरा बच्चा आज मेरा दिन है। आज तुम्हारा दिन है। आज हमारा दिन है। आज राखी है।उन्होंने आगे लिखा है, ‘पैंतीस साल के बाद यह पहला अवसर है जब पूजा की थाल सजी है। आरती का दिया भी जल रहा है। बस वो चेहरा नहीं है जिसकी आरती उतार सकूं। वो ललाट नहीं है जिसपर टीका सजा सकूं। वो कलाई नहीं जिस पर राखी बांध सकूं।’अपना दर्द बयां करते हुए इस पोस्ट में उन्होंने फिर लिखा है, ‘वो मुंह नहीं जिसे मीठा कर सकूं। वो माथा नहीं जिसे चूम सकूं। वो भाई नहीं जिसे गले लगा सकूं।’उन्होंने लिखा है, ‘वर्षों पहले जब तुम जब आए थे तो जीवन जगमग हो उठा था। जब थे तो उजाला ही उजाला था। अब जब तुम नहीं हो तो मुझे समझ नहीं आता कि क्या करूं?’बहन ने लिखा है, ‘तुम्हारे बगैर मुझे जीना नहीं आता। कभी सोचा नहीं कि ऐसा भी होगा। ये दिन होगा पर तुम नहीं होगे। ढेर सारी चीजें हमने साथ-साथ सीखी। तुम्हारे बिना रहना मैं अकेले कैसे सीखूं? तुम्हीं कहो।हमेशा तुम्हारी – रानी दी’

बहन श्वेता ने इंस्टाग्राम पर एक नोट शेयर कर प्रधानमंत्री ने न्याय की गुहार लगाई थी। श्वेता ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि प्रधानमंत्री इस मामले में जल्द से जल्द दखल दें। प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर पीएम मोदी ने लोकमान्य तिलक की 100वीं पुण्यतिथि पर एक वीडियो शेयर किया था। पीएम के इस ट्वीट पर रिप्लाइ करते हुए श्वेता री-ट्वीट करते हुए लिखा, ‘आदरणीय सर, यही समय है जबकि हम लोग लोकमान्य तिलक की ‘न्याय की भावना’ का पालन करें जोकि आपको प्रेरित करता है। मेरी आपसे विनती है कि कृपया इस मामले में जल्द से जल्द देखें।’

सुशांत सिंह राजपूत के पिता का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह बता रहे हैं कि उन्होंने फरवरी में ही बांद्रा पुलिस को सूचित किया था कि उनके बेटे की जान को खतरा है. इस वीडियो को सुशांत सिंह राजपूत  के पिता के.के. सिंह ने खुद बनाया है और इसे समाचार एजेंसी एएनआई ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है. इस तरह वह इस वीडियो में बता रहे हैं कि उन्होंने पुलिस को सूचित किया था, और अब 40 दिन बाद आखिर पटना में FIR क्यों दर्ज कराई है.इस वीडियो में सुशांत सिंह राजपूत के पिता कह रहे हैं, ’25 फरवरी, मैंने बांद्रा पुलिस को सूचना दी थी कि वह खतरे में है. उसका निधन 14 जून को हुआ और मैंने उनसे कहा कि 25 फरवरी की शिकायत में जिन लोगों के नाम थे उनके खिलाफ कार्यवाही करें. उसकी मौत के 40 दिन बाद तक कोई कार्यवाही नहीं हुई. तो मैंने पटना में FIR फाइल कर दी.’

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *