Pages Navigation Menu

Breaking News

31 दिसंबर तक बढ़ी ITR फाइलिंग की डेडलाइन

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए ना हो; पीएम नरेंद्र मोदी

सच बात—देश की बात

बॉक्सिंग में सतीश कुमार ने जड़ा जीत का पंच

satish-1627528743-1627529414Tokyo Olympics 2020 Day 6 Updates :

शूटर मनु भाकर के पास मेडल जीतने का आखिरी मौका

नमस्कार! इंडिया टीवी लाइव ब्लॉग में आपका स्वागत है। खेलों के महाकुंभ के पांचवें दिन हमने देखा कि भारत की ओर से पीवी सिंधू, पूजा रानी और दीपिका कुमारी ने अपने-अपने मुकाबले जीते और भारत के लिए पदक की उम्मीद बनाए रखी। टोक्यो ओलंपिक का छठा दिन भारत के लिए बेहतर साबित हुआ। हॉकी में जहां भारत ने अर्जेंटीना को 3-1 से हराते हुए टूर्नामेंट में तीसरी जीत दर्ज की। वहीं, बैडमिंटन में पीवी सिंधू ने डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को 21-15, 21-11 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। अब भारतीय महिला बॉक्सर मैरीकॉम पर सभी की नजरें टिकी होंगी।

बैडमिंटन : पीवी सिंधु ने डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को 21-15, 21-11 से हराकर क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह।

भारतीय टीम ने अर्जेंटीना को 3-1 से हराकर तोक्यो ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई​ 

तीरंदाजी : भारतीय तीरंदाज अतनु दास ने 2 बार के ओलंपिक चैंपियन जिन्ह्येक ओह को हराते हुए प्री-क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह।

 बॉक्सिंग : सतीश कुमार ने जमैका के रिकार्डो ब्राउन को 4-1 से हराते क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई।

अतनु दास ने साउथ कोरियाई ओह जिन हयेक को हराया

भारत के स्टार तीरंदाज अतनु दास दूसरे दौर के बेहद रोमांचक मुकाबले में दो बार ओलंपिक चैंपियन दक्षिण कोरिया के ओह जिन हयेक को शूट ऑफ में हराकर टोक्यो ओलंपिक की पुरुष व्यक्तिगत स्पर्धा के तीसरे दौर में जगह बनाने के सफल रहे। दास ने पिछड़ने के बाद जोरदार वापसी करते हुए 6-5 से जीत दर्ज की।शूट ऑफ में लंदन ओलंपिक खेलों के व्यक्तिगत स्वर्ण पदक विजेता जिन हयेक ने नौ अंक जुटाए जिसके बाद दुनिया के नौवें नंबर के खिलाड़ी दास ने 10 अंक पर निशाना साधकर अगले दौर में प्रवेश सुनिश्चित किया। जिन हयेक मौजूदा खेलों में टीम स्वर्ण पदक जीतने वाली कोरियाई टीम का भी हिस्सा थे।युमेनोशिमा फाइनल फील्ड पर अतनु को हवा से सामंजस्य बैठाने में थोड़ी परेशानी हुई लेकिन वह अहम समय पर धैर्य बरकार रखते हुए जीत दर्ज करने में सफल रहे। दास के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी दिखी। उन्होंने अपने से कम रैंकिंग वाले चीनी ताइपे के यू चेंग डेंग पर पहले दौर में 6-4 की जीत दौरान विरोधी खिलाड़ी को वापसी के मौके दिए लेकिन जिन हयेक के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया। अगले दौर में दास का सामना जापान के ताकाहारू फुरुकावा से होगा जो लंदन ओलंपिक के व्यक्तिगत रजत पदक विजेता हैं।फुरुकावा यहां कांस्य पदक जीतने वाली जापान की टीम का हिस्सा भी थे। जिन हयेक ने पहले सेट में आठ और दो नौ अंक से 26 अंक जुटाए। दास ने पहले दो प्रयास में आठ अंक से खराब शुरुआत की और अंतिम प्रयास में नौ अंक के बावजूद 25 अंक ही बना पाए जिससे कोरियाई खिलाड़ी ने पहला सेट जीता। दूसरे और तीसरे सेट 27-27 के समान स्कोर से बराबर रहे जिससे चौथे सेट से पहले जिन हयेक को 4-2 की बढ़त हासिल की थी।करो या मरो के चौथे सेट में जब दास 17-16 से आगे थे तब जिन हयेक हड़बड़ा गए और अंतिम तीर पर छह ही अंक जुटा पाए। दास ने 10 पर निशाना साधकर 27-22 के बड़े अंतर से सेट जीता। पांचवें और निर्णायक सेट में दोनों तीरंदाजों ने 10 और नौ अंक के साथ शुरुआत की। जिन हयेक ने अंतिम प्रयास में नौ अंक जुटाए। दास को अंतिम प्रयास पर जीत के लिए 10 अंक की जरूरत थी लेकिन वह नौ अंक ही जुटा पाए जिससे सेट 28-28 से बराबर रहा और मुकाबला शूट आउट में खिंच गया। इससे पहले डेंग के खिलाफ दास ने पहले सेट में 10 अंक के साथ शुरुआत करने के बाद आठ और नौ अंक पर निशाना साधा।चीनी ताइपे का दुनिया का 122वें नंबर का खिलाड़ी आठ, नौ, नौ अंक ही जुटा पाया जिससे भारतीय खिलाड़ी ने पहला सेट 27-26 से जीतकर 2-0 की बढ़त बनाई। दूसरे सेट में भी दास ने नौ, 10 और आठ अंक के साथ कुल 27 अंक हासिल किए। डेंग ने हालांकि दो 10 और एक आठ के साथ 28 अंक जुटाकर मुकाबला बराबर कर दिया। दास ने तीसरे सेट में 10 और दो बार नौ अंक के साथ 28 अंक जुटाए जबकि चीनी ताइपे का खिलाड़ी अंतिम तीर पर सात अंक के साथ 26 अंक ही जुटा पाया।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »