Pages Navigation Menu

Breaking News

मोदी मंत्रिमंडल : 43 मंत्रियों की शपथ, 36 नए चेहरे, 12 का इस्तीफा

 

भारत में इस्लाम को कोई खतरा नहीं, लिंचिंग करने वाले हिन्दुत्व के खिलाफ: मोहन भागवत

देश में समान नागरिक संहिता हो; दिल्ली हाईकोर्ट

सच बात—देश की बात

अब पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री

dhami1देहरादून: उत्तराखंडके 11वें मुख्यमंत्री ने शपथ ले ली है. बारिश के बीच राजभवन में शपथ ग्रहहण समारोह हुआ. पुष्कर सिंह धामी  अब उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री होंगे. धामी उत्तराखंड से सबसे कम उम्र के सीएम बने हैं. राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने उन्हें मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई.पुष्कर सिंह धामी   के साथ ही सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत, बंशीधर भगत, यशपाल आर्य, बिशन सिंह, सुबोध उनियाल, अरविंद पांडे, गणेश जोशी, धनसिंह रावत, रेखा आर्य, यतीश्वरानंद ने मंत्री पद की शपथ ग्रहण की.पुष्कर सिंह धामी  ने शपथ से पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की. धामी ने देहरादून में राज्य मंत्री सतपाल महाराज से उनके आवास पर मुलाकात की. इसके अलावा पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल भुवन चन्द्र खंडूरी से उनके आवास पर मुलाकात की.

नए CM की शपथ से पहले BJP के सीनियर नेता नाराज थे ? 

दूसरी तरफ उत्तराखंड भाजपा में पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री चुने जाने को लेकर बगावत की खबरों के बीच pushkar-singh-dhamiमंत्रियों और वरिष्ठ नेताओं समेत कई नेताओं ने किसी भी तरह के कलह से इनकार किया. तीरथ सिंह रावत की सरकार में मंत्री हरक सिंह रावत, यशपाल आर्य और बिशन सिंह चुपल ने कहा, ‘कोई अंदरूनी कलह नहीं है.’ बीजेपी विधायक धन सिंह रावत ने भी नाराजगी की खबरों का खंडन किया.देहरादून में सुबह से ही जोरदार अफवाह चल रही थी कि धामी के चयन से नाखुश वरिष्ठ नेता और मंत्री सतपाल महाराज और हरक सिंह रावत दिल्ली पहुंच गए हैं. हरक सिंह रावत ने स्पष्ट किया कि वह देहरादून में हैं और पार्टी नेतृत्व के साथ हैं. हरक सिंह रावत ने कहा, ‘मैं देहरादून में हूं और यहां सबके साथ बैठा हूं. केंद्रीय नेतृत्व के लिए समय मांगने के लिए दिल्ली में मेरी मौजूदगी की सभी खबरें निराधार और अफवाहें हैं.’उत्तराखंड  के 11वें सीएम के रूप में पुष्कर सिंह धामी के शपथ ग्रहण से पहले भाजपा अपनों की नाराजगी दूर करने में जुटी रही। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के घर पर बैठकों का दौर चला। सूत्रों के मुताबिक इन बैठकों में प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, पार्टी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम और प्रदेश महामंत्री संगठन अजय मौजूद थे।सीनियर नेताओं की तुलना में अपेक्षाकृत युवा पुष्कर सिंह धामी के चयन से कई नेता नाराज बताए जा रहे थे। पार्टी प्रदेश नेतृत्व ने पुष्कर धामी को उत्तराखंड की जिम्मेदारी सौंपी है हालांकि पार्टी  नेतृत्व के इस फैसले के बाद प्रदेश भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेता नाराज भी बताए जा रहे थे।बिशन सिंह चुफाल की नाराजगी की खबरों के बीच मनोनीत मुख्यमंत्री पुष्कर धामी और बीजेपी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम ने उनसे फोन पर बातचीत की। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सांसद अजय भट्ट ने पार्टी नेताओं की किसी भी तरह की नाराजगी से साफ इनकार किया। उनका कहना था। कि पार्टी नेतृत्व ने जो भी फैसला लिया है, वह सभी को स्वीकार है।

धामी ने दिया आलाकमान को धन्‍यवाद
मुख्यमंन्त्री बनने की घोषणा होने के बाद पुष्कर सिंह धामी ने पत्रकारों से कहा था कि हम हर चुनौती को स्वीकार करते हैं। पुराने कार्यों को आगे बढ़ाएंगे। संगठन के कार्यों को भी आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने बीजेपी आलाकमान का धन्यवाद भी दिया।

सबसे कम उम्र के राज्‍य के सीएम
धामी उत्तराखंड के सबसे कम उम्र वाले मुख्यमंत्री होंगे। वह 45 साल  हैं। फिलहाल उत्तराखंड में कम उम्र का सीएम बनने का रिकॉर्ड उनके नाम रहेगा। 70 विधानसभा सीट वाले उत्तराखंड में 57 विधायक बीजेपी के हैं। साढ़े चार साल में बीजेपी ने तीसरा सीएम दिया है।

कोश्‍यारी के करीबी हैं धामी
बीजेपी में चुफाल और पूर्व सीएम भगत सिंह कोश्यारी के बीच अदावत चलती रही है। नए सीएम कोश्यारी के करीबियों में शुमार किए जाते हैं।अब यह भी माना जाया रहा है कि पूर्व कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और हरक सिंह रावत भी मंत्रिमंडल में शामिल होने से किनारा कर सकते हैं। ये दोनों ही नेता सीएम के दावेदार थे।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »