Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

13 राज्यों में आंधी-तूफान का अलर्ट, स्कूल बंद

crop-640x360-000आंधी-तूफान और तेज बारिश की आशंका को देखते हुए पूरे उत्तर भारत में अलर्ट जारी कर दिया गया है. देश के कुल 13 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों में अलर्ट जारी है, मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 48 घंटों में कुदरत कहर बरपा सकता है. गृह मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के कई स्थानों में आंधी-तूफान और ओलावृष्टि के साथ बारिश हो सकती है. इस बीच चंडीगढ़ में बारिश शुरू हो गई है.

चंडीगढ़ में बारिश

 चंडीगढ़ व आसपास के इलाकों में सोमवार तड़के झमाझम बारिश हुई जबकि मौसम विभाग द्वारा तूफान की चेतावनी जारी किए जाने के बाद पंजाब और हरियाणा प्रशासन हाई अलर्ट पर है.

इन राज्यों में हाई-अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ इलाकों में भारी बारिश हो सकती है. अधिकारी के मुताबिक, जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में भी गरज-बरज के साथ बारिश हो सकती है.

आंधी-तूफान आने पर कुछ जरूरी उपाय अपनाकर अपना और अपने परिवार की सुरक्षा की जा सकती है..  

– चेहरे पर मास्क लगाएं और आंखों पर धूल से बचाव करने वाला चश्मा पहनें. तेज हवाओं के चलते मास्क सूख न जाए इसलिए उसे बीच-बीच में पानी से गीला करते रहें.

– अपने नाक में पेट्रोलियम जेली लगाएं. वो आपके नाक की नसों को सूखने से बचाएगा.

– आंधी-तूफान आने की स्थिति में जल्दी से जल्दी किसी इमारत या मकान में पनाह लें. अंदर रहने के दौरान खिड़कियों और दरवाजों से दूरी बनाए रखें. साथ ही बिजली के उपकरण और किसी तरह का मेटल को हाथ नहीं लगाएं.

– सड़क पर अगर गाड़ी में जा रहे हों तो आंधी-तूफान आने पर गाड़ी को फौरन कहीं ऐसी जगह पार्क करें जहां उड़ती हुई कोई चीज (पेड़, मकान की छत, टीन शेड) आकर न टकराए. इस दौरान रेडियो या फोन का इस्तेमाल न करें वरना उसकी फ्रीक्वेंसी से वहां बिजली गिरने का खतरा पैदा हो जाएगा.

पिछले हफ्ते आए आंधी-तूफान ने मचाई थी भयानक तबाही और बर्बादी

पिछले हफ्ते राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश समेत 5 राज्यों में आए आंधी-तूफान ने जबरदस्त तबाही मचाई थी. लगभग 140 किलोमीटर की रफ्तार से आई आंधी के चलते सैकड़ों की संख्या में पेड़ उखड़ गए थे. मकानों की छतें उड़ गई थीं और दीवार ढह गए थे. इससे यहां 124 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी जबकि सैकड़ों लोग घायल हुए थे.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *