Pages Navigation Menu

Breaking News

31 दिसंबर तक बढ़ी ITR फाइलिंग की डेडलाइन

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए ना हो; पीएम नरेंद्र मोदी

सच बात—देश की बात

पश्चिम बंगाल; जवानों पर का हमला, हथियार छीनने की कोशिश…4 लोगों की मौत

west bengalपश्चिम बंगाल में चौथे दौर के मतदान के बीच कूचबिहार के सितलकुची में बोलिंग बूथ पर 4 लोगों की मौत के बाद सियासत तेज हो गई है। इस बीच चुनाव आयोग और सीआईएसएफ ने बताया है कि आखिर क्यों जवानों को गोली चलानी पड़ी। इस बीच बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी और गृहमंत्री अमित शाह पर आरोप लगाते हुए सीआईडी जांच की बात कही है।पुलिस सूत्रों का कहना है कि उत्तर बंगाल के कूचबिहार के सीतलकुची में केंद्रीय बल CISF के जवानों ने ओपन फायरिंग की थी। मरने वालों में 18 साल का युवक भी शामिल है। हालांकि टीएमसी का दावा है कि फायरिंग में 5 की जान गई है और सभी टीएमसी वर्कर हैं।चुनाव आयोग ने कूचबिहार के सीतलकुची के पोलिंग स्टेशन 125 पर मतदान स्थगित करने के आदेश दिए हैं। स्पेशल ऑब्जर्बर की एक आंतरिक रिपोर्ट के आधार पर चुनाव आयोग ने फैसला लिया है। पर्यवेक्षक और मुख्य निर्वाचन अधिकारी से आज शाम 5 बजे तक विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है।

सीआईएसएफ के प्रवक्ता ने कहा, ”जोरपाटकी के सितलकुची में बूथ नंबर 126 के बाहर भीड़ ने ड्यूटी दे रहे सीआईएसएफ जवानों पर हमला कर दिया और हथियार छीनने की कोशिश की। आत्मरक्षा और चुनाव अधिकारियों को बचाने के लिए पोलिंग स्टेशन पर तैनात जवानों ने 6-8 राउंड फायरिंग की।”इस बीच, चुनाव आयोग ने भी बयान जारी करके बताया है कि इस तरह की नौबत इसलिए आई क्योंकि एक गलतफहमी की वजह से भीड़ ने सुरक्षाबलों पर हमला कर दिया था। चुनाव आयोग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बूथ नंबर 126 पर वोटिंग शांतिपूर्वक चल रही थी। पोलिंग बूथ के पास मानिक मोहम्मद नाम का एक लड़का बीमार था और दो-तीन स्थानीय लोग उसकी देखभाल कर रहे थे।जिला पुलिस की ओर मिली रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा गया है कि यह देखकर सीआईएसएफ के कुछ कर्मचारियों ने लड़के के स्वास्थ्य के बारे में पूछा। उन्होंने लोगों से यह भी पूछा कि क्या वे लड़के को अस्पताल भेजना पसंद करेंगे। बयान में आगे कहा गया है, ”इस बीच दूसरे स्थानीय लोगों ने यह समझ लिया कि लड़के को सीआईएसएफ के जवानों ने पीटा है। इस गलतफहमी में वहां मौजूद कुछ लोगों ने शोर मचाना शुरू किया। 300-350 लोग वहां एकत्रित हो गए। इनमें कुछ महिलाएं भी थीं, जो हाथ में ऐसे सामान लेकर आईं थीं, जिससे गंभीर चोटें पहुंचाईं जा सकती थीं।”

लॉकेट चटर्जी से की कार में तोड़फोड़
चौथे चरण के मतदान के दौरान बंगाल में जगह-जगह हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। इससे पहले बीरभूम जिले के नानूर में बीती रात पुलिस ने देशी बम बरामद किया था जिसे बम स्क्वैड ने डिफ्यूज किया। वहीं हुगली में बीजेपी नेता लॉकेट चटर्जी की कार पर हमला हुआ। लोगों ने लॉकेट गो बैक के नारे लगाए। लॉकेट चटर्जी के गाड़ी के शीशे तोड़े गए।हुगली के बूथ नंबर-66 में खुद पर हुए हमले के बाद लॉकेट चटर्जी बोलीं, ‘गाड़ी को तोड़ा, मुझे मारने की कोशिश की। मैंने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है। पुलिस ने कुछ नहीं किया, पुलिस को सब मालूम है।’

एसएचओ की पीट-पीटकर हत्या
इससे पहले एक अलग घटना में उत्तर दिनाजपुर में बिहार के पुलिस अधिकारी की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। गोलपोखर पुलिस थाने के अंतर्गत एक गांव में बिहार के किशनगंज पुलिस थाने के एसएचओ अश्विनी कुमार की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। आईजी पूर्णिया रेंज के बताया, ‘एसएचओ बाइक चोरी के संबंध में छापेमारी के लिए आए थे। इस्लामपुर एसपी हमारे साथ हैं। हम छापेमारी करके गिरफ्तारियां करेंगे।’

दीदी और टीएमसी की मनमानी बंगाल में नहीं चलने दी जाएगी: मोदी
इस बीच कूचबिहार में हुई हिंसा की गूंज सिलिगुड़ी में पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में भी देखने को मिली। पीएम ने कहा, ‘कूचबिहार में जो हुआ है, वो बहुत दुखद है। जिन लोगों की मृत्यु हुई है, मैं उनके निधन पर दुख जताता हूं। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। बीजेपी के पक्ष में जनसमर्थन देखकर दीदी और उनके गुंडों में बौखलाहट हो रही है।’टीएमसी चीफ पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि ‘कुर्सी जाते देख दीदी इस स्तर पर उतर आई हैं, लेकिन मैं दीदी को, टीएमसी को, उनके गुंडों को साफ-साफ कह देना चाहता हूं.. दीदी और टीएमसी की मनमानी बंगाल में नहीं चलने दी जाएगी। मेरा चुनाव आयोग से आग्रह है कि कूचबिहार में जो हुआ, उसके दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो।’पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘और दीदी यह हिंसा लोगों को सुरक्षाबलों पर आक्रमण करने के लिए उकसाने के तरीके, चुनाव में रोड़े अटकाने के तरीके, दीदी आपको नहीं बचा पाएंगे। आपके 10 साल के कुकर्मों से यह हिंसा आपकी रक्षा नहीं कर सकती है।’

गृह मंत्रालय के इशारे पर रची जा रही साजिश: ममता बनर्जी
उधर सीएम ममता बनर्जी ने 4 लोगों की मौत के पीछे गृहमंत्रालय की साजिश करार दिया। ममता बनर्जी ने कहा, ‘सीआरपीएफ ने सीतलकुची में आज 4 लोगों को मार दिया है। सुबह एक और मौत हुई। सीआरपीएफ मेरे दुश्मन नहीं है लेकिन गृह मंत्रालय के निर्देश पर साजिश की जा रही है और आज की घटना इसका सबूत है।’ममता बनर्जी ने आगे कहा, ‘सीआरपीएफ ने लाइन में खड़े वोटर को मार दिया। इन्हें इतना दुस्साहस कहां से मिलता है? बीजेपी जानती है कि वे हार रहे हैं इसलिए वे वोटर और कार्यकर्ता को मार रहे हैं।’

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »