Pages Navigation Menu

Breaking News

जेपी नड्डा बने भाजपा के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष

जिनको जनता ने नकार दिया वे भ्रम और झूठ फैला रहे है; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत में शक्ति का केंद्र सिर्फ संविधान; मोहन भागवत

पश्चिम बंगाल ; राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यकर्ता की परिवार समेत हत्या

Murshidabad-murder-1570758750कोलकाता. पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) कार्यकर्ता की परिवार समेत हत्या को लेकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ममता बनर्जी सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने गुरुवार को कहा कि इस जघन्य हत्याकांड में राज्य की कानून व्यवस्था की बदतर स्थिति नजर आती है। इससे पहले विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की। वहीं, घटना के विरोध में भाजपा और आरएसएस ने प्रदर्शन किया।राज्यपाल ने कहा कि घटना से बेहद दुखी हूं। यह लोकतांत्रिक व्यवस्था पर धब्बा है। एक शिक्षक, उनकी गर्भवती पत्नी और बेटे की नृशंस हत्या कर दी गई। लेकिन तृणमूल सरकार की ओर से मानवता को शर्मशार करने वाली इस घटना पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। मैंने इस मामले में अधिकारियों से हालात को लेकर अपडेट मांगा है। उम्मीद है कि मामले की निष्पक्ष जांच की जाएगी।राज्यपाल धनखड़ ने कहा, ‘मैं मुर्शिदाबाद जिले में एक स्कूल शिक्षक, उनकी पत्नी और उनके बेटे की अमानवीय , नृशंस हत्या से दुखी और स्तब्ध हूं. यह राज्य की स्थिति और पश्चिम बंगाल की कानून व्यवस्था का हाल बयां करती है.’ इस घटना पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट करके घर का वीडियो साझा किया. वीडियो में फर्श पर खून के धब्बे देखे जा सकते हैं. पात्रा ने ट्वीट किया, ‘चेतावनी: नृशंस वीडियो. इसने मेरी अंतरात्मा को झकझोर दिया है. पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में संघ कार्यकर्ता बंधु प्रकाश पाल, उनकी आठ माह की गर्भवती पत्नी और बच्चे की नृशंस तरीके से हत्या कर दी गई. उदारवादियों की तरफ से एक भी शब्द नहीं आया. 49 उदारवादियों ने ममता को एक भी पत्र नहीं लिखा.’ गौरतलब है कि देशभर के 49 जाने माने लोगों ने जुलाई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देश में भीड़ द्वारा हत्या की घटनाओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी.

मंगलवार को तीनों के शव खून से लथपथ घर में मिले थे

संघ कार्यकर्ता बंधु प्रकाश पॉल (35), उनकी गर्भवती पत्नी ब्यूटी और छह वर्षीय बेटे अंगन के शव मंगलवार को जियागंज इलाके में स्थित उनके घर में खून से लथपथ मिले थे। हमलावरों ने तीनों पर धारदार हथियार से हमला किया था। पुलिस संपत्ति विवाद समेत अन्य पहलुओं को लेकर मामले की जांच कर रही है।

‘सरकार बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करने पर विचार करे’

विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने मुर्शिदाबाद में कहा कि केंद्र को सोचना चाहिए कि बंगाल संविधान के अनुसार चलेगा या राज्य में राष्ट्रपति लागू करने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि महिला और बच्चे के साथ किसी की क्या दुश्मनी हो सकती है। यहां स्थिति ऐसी है कि केंद्रीय मंत्री के साथ भी गुंडागर्दी होती है। दूसरी ओर, भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ममता सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दीदी आपके राज में ये क्या हो रहा है? राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने भी मुख्यमंत्री और डीजीपी को पत्र लिखकर आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *